Wednesday, June 11, 2014

परिचय


हम जहाँ हैं 
उस जगह का परिचय 
वहां का पता ही नहीं 
इस बात से भी होता है 
की हमें 
अपना पता है या नहीं है 

अशोक व्यास 
न्यूयार्क, अमेरिका 
११ जून २०१४ 

No comments:

वहाँ जो मौन है सुंदर

वह जो लिखता लिखाता है कहाँ से हमारे भीतर आता है कभी अपना चेहरा बनाता कभी अपना चेहरा छुपाता है वह जो है शक्ति प्रदाता  ...